आनन्दधारा आध्यात्मिक मंच एवं वार्षिक पत्रिका

सर्वे भवन्तु सुखिन: सर्वे सन्तु निरामया:, सर्वे भद्राणि पश्यन्तु मा कश्चिद्द:खभाग्भवेत्

punctual work,time and place = success

जब कोई नियत कार्य नियत स्थान एवं नियत समय से किये जायें , तब सफलता शत-प्रतिशत निश्चित है । साधना में इस मूल मन्त्र को अपनायें, आप सफल अवश्य होंगे ।

Advertisements

Comments are closed.